खुशबू में मेरी दुआ मिली है

मेंहंदी लगी है तेरे हाथों में ,वो मुझे भी देखनी है |
रची है कितनी मेरे प्यार की ,वो भी देखनी है ||

आज होगी आजमाईश मेरी भी मुहब्बत की |
क्योंकि मेहंदी की ''खुशबू'' में मेरी दुआ मिली है ||




:-Shekhar Kumawat

हैं माँ

हैं माँ
मेने देखा
मैंने समझा

ये दुनिया कितनी छोटी हे
और तेरा आँचल कितना बड़ा हे

तेरे आँचल में मिले मुझे लाख फूल
दुनिया में मिले हर कदम पर शूल

तुने हर कदम पर संभाला
जहाँ ने हर कदम पर गिराया

सबसे बड़ा तेरा दिल
बाकी ये सब पत्थर दिल

बस माँ तेरा तेरा आँचल मिले
रख कर उस में सिर

मीठी मीठी लोरी सुनु
प्यारी प्यारी बाते सुनु

हा माँ तेरा आँचल मिले
http://4.bp.blogspot.com/_phyTSO0nWNw/S-c0uC8KYVI/AAAAAAAAAFg/1150vl8nA1Y/s1600/happy_mothers_day.jpg
:- Shekhar Kumawat